Pregnancy & Care

Everything about Pregnancy and after care.

शुक्रवार, 2 अगस्त 2019

35 के बाद प्रेग्नेंट होने के 15 टिप्स पार्ट #1

नमस्कार दोस्तों हम सभी जानते हैं कि धीरे-धीरे हमारे आसपास का वातावरण खराब होता जा रहा है हमारा खाना पीना भी खराब होता जा रहा है लाइफ़स्टाइल बहुत ज्यादा फास्ट हो गई है ऐसे में खाने पीने का ध्यान भी बहुत कम रहता है आज का युग मशीनी युग है जिसमें हमें अपने शरीर का संपूर्ण प्रयोग करने का अवसर ही नहीं मिलता जिससे शरीर की क्षमता भी कम होती जाती है, भ्रष्टाचार की जड़ें इतनी गहराई तक समा चुकी है की खाने पीने की चीजों में भी अत्यधिक मिलावट हो रही है जो कि  हमारे लिए जानलेवा साबित होती है, इन सब कारणों से शरीर की क्षमता कम होती जा रही है और एक महिला जोकि 20 से लेकर 30 वर्ष तक की उम्र में बड़ी आसानी से मां बन सकती है उसे भी मां बनने में परेशानी हो रही है अब सवाल यह है आता है कि बड़ी उम्र में 35 वर्ष के बाद अगर महिला मां बनना चाहे तो उसे क्या करना होगा क्योंकि ३५ के बाद तो शरीर की छमता अपने आप ही कम होने लगती है तो बड़ी उम्र में माता बनने के लिए हमें किन किन बातों का ध्यान रखना चाहिए आइए चर्चा करते हैं.
You May Also Like : 35 के बाद प्रेग्नेंट होने के 15 टिप्स पार्ट #2
You May Also Like : प्रेगनेंसी होने के शुरुआती लक्षण 10 लक्षण - Part #1


pregnancy at age 35

35 साल की उम्र के बाद मां बनना एक चुनौतीपूर्ण काम होता है। लेकिन जो लड़कियां देरी से शादी करती हैं या फिर कॅरियर के चक्कर में जल्दी उम्र में मां नहीं बन पाती हैं उनके लिए 35 के बाद मां बनने के लिए इस POST में कुछ शानदार टिप्स है

पॉजिटिविटी: बड़ी उम्र में मां बनना थोड़ा मुश्किल होता है तो ऐसे में थोड़ा नेगेटिविटी महिला के मन में आ जाती है कि वह मां बन पाएगी कि नहीं बन पाएगी तो सबसे बड़ी बात तो यह है कि उन्हें पॉजिटिव ही सोचना है और उन्हें अपनी क्षमताओं पर विश्वास करना है, उन्हें अपने आप पर पूर्ण विश्वास होना चाहिए कि वह मां बन सकती है.
You May Also Like : क्या प्रेगनेंसी में गर्म पानी से नहाना सुरक्षित है
You May Also Like : जानें क्यों प्रेगनेंसी में सौंफ खाने से किया जाता है मना


चिकित्सक की सलाह : 35 साल की उम्र के बाद गर्भवती होने में कई जटिलतायें आती हैं। अगर आप 53 साल की उम्र के बाद प्रेग्नेंट होना चाहती हैं तो चिकित्सक से सलाह लें और जरूरी टेस्ट करायें। इस उम्र में लापरवाही बरती गई तो गर्भपात होने की ज्यादा संभावना होती है और आवश्यकता पड़े तो अपनी काउंसलिंग करवानी चाहिए और साथ में अपने पार्टनर को भी काउंसलिंग शामिल करना चाहिए |

धूम्रपान छोड दें: अगर आप 35 की उम्र के बाद मां बनने के बारे में सोच रही है तो धूम्रपान करना बिल्कुल छोड़ दें और अपने पार्टनर को भी ऐसा करने को कहें। ऐसा न करने पर धुंए से आपकी ओवरी आदि पर बुरा असर पड़ता है.

getting pregnant after 35

You May Also Like : प्रेगनेंसी में दी जाने वाली बेस्ट ड्रिंक
You May Also Like : पल्स विधि द्वारा जेंडर प्रिडिक्शन

शराब छोड़ दे: अगर बड़ी उम्र में दंपत्ति माता पिता बनना चाह रहे हैं तो उन्हें शराब का सेवन छोड़ना होगा यह प्रजनन क्षमता ओं को कमजोर करता है इस शुक्राणु पर भी इसका बुरा प्रभाव पड़ता है

लाइफस्टाइल : इस उम्र प्रेग्नेंट होने से पहले अपने लाइफस्टाइल में बदलाव लाइए। नियमित व्यायाम और योगा कीजिए। हेल्दी लाइफस्टाइल अपनाइए, दारू और सिगरेट को अलविदा कहिए। लेट नाइट पार्टियों में जाने से बचे, भरपूर नींद लीजिए अपने आप को तरोताजा रखिए।

वजन पर नियंत्रण  रखें : अगर शरीर पर फैट अधिक होगा तो पीरियड्स में अनियमितता आ जाती है वह प्रेगनेंसी ठहरने में मुश्किल होती है. अगर इस समय आप माता बनने की इच्छा रखी है तो आपको अपना वजन कंट्रोल में लाना होगा | इससे हारमोन्स बैलेंस रहेंगे और आप आसानी से कन्सीव कर लेगी।

चाय कॉफी पर नियंत्रण : गर्भधारण की इच्छा रखने वाली माता बहनों को चाय कॉफी पीने पर नियंत्रण रखना होगा क्योंकि इसमें कैफीन पाया जाता है जो कि गर्भपात का कारण बन सकता है।

अपने प्रजनन दिनों के बारे में जानें: बड़ी उम्र में जाकर प्रजनन क्षमता अपने आप ही कम हो जाती है तो ऐसी स्थिति में आपको अपने फर्टाइल डेज  के संबंध में जानने की कोशिश करनी चाहिए जब प्रेगनेंसी होने के चांसेस सबसे ज्यादा होते हैं उन्हीं दिनों पर संबंध बनाने की कोशिश सबसे ज्यादा करें | पीरियड के 12वें से 16वां दिन ओवुलेशन का होता है।

Cervical mucus को जांचें: अगर आपका Cervical mucus साफ है तो संकेत है कि आपकी प्रजनन क्षमता काफी अच्छी है और आप जल्द ही कन्सीव कर सकती हैं, क्योंकि स्पर्म इसकी सहायता से शीघ्र ही अंदर पहुंच सकता है।
You May Also Like : अल्कोहल से जेंडर प्रिडिक्शन 1 मिनट में
You May Also Like : प्रेगनेंसी से बचने के घरेलू उपाय


पौष्टिक भोजन : आपको कुछ माह पहले से ही फास्ट फूड तला भुला खाना छोड़ना होगा आप को पौष्टिक भोजन लेना है इसके लिए आप  डाइट एक्सपर्ट से सलाह ले सकते हैं. कैल्शियम, प्रोटीन, विटामिन आदि से भरपूर भोजन का सेवन करें। इससे आपकी हड्डियां मजबूत होगी और शरीर में ताकत आएगी।

आर्गेनिक फूड खाएं:  कान्सेप्शन के दौरान आर्गेनिक फूड का सेवन करें, इससे आपके शरीर में पेस्टीसाइड आदि की मात्रा बहुत कम पहुंचेगी। प्रेगनेंसी को कैरी करने में उतनी ही आसानी होगी ।

शुगर और प्रॉसेस्ड फूड न लें: ऐसे भोजन का सेवन करना बंद कर दें जो मिलावटी हों, जिनमें ज्यादा चीनी हों और जिन्हे प्रॉसेस्ड किया गया हों, इससे प्रजनन क्षमता पर बुरा असर पड़ता है।

प्यार को बढ़ाएं : पति पत्नी को आपसी रिश्ते को थोड़ा और मजबूत करना होगा जितना हो सके साथ में टाइम बिताएं प्यार भरी बातें करें, एक दूसरे को समझने की कोशिश करें, प्यार करें.

pregnancy at age 40


पार्टनर की हेल्थ का रखें ध्यान: 35 के बाद अगर आप मां बनने जा रही हैं तो ऐसा आपके पार्टनर के बगैर संभव नहीं है। इसलिए आपको अपने पार्टनर की हेल्थ का ध्यान भी रखना चाहिए।
You May Also Like : प्रेगनेंसी में खून की कमी और उपाय
You May Also Like : महिलाओं में बांझपन के क्या कारण होते हैं - शारीरिक कारण

औषधियों का प्रयोग कीजिए:
इस उम्र में पीरयिड नियमित नही रहता है ऐसे में ओवुलेशन प्रक्रिया सही समय पर नही होती है। प्रेग्नेंट होने के लिए ओवुलेशन प्रक्रिया और इसकी तिथि के बारे में जानना जरूरी है। इसके लिए आप अन्य दवाओं की तुलना में जड़ी-बूटियों का प्रयोग कीजिए। ये आपको प्राकृतिक रूप से प्रेग्नेंट होने में मदद करेंगे।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें