Pregnancy & Care

Everything about Pregnancy and after care.

मंगलवार, 27 अगस्त 2019

पल्स विधि द्वारा जेंडर प्रिडिक्शन

नमस्कार दोस्तों आज की Post में हम आपसे यह कैसी विधि के बारे में चर्चा करने वाले हैं जो काफी हद तक वैलिड मानी जाती है इसकी सहायता से हम आने वाले बच्चे के जेंडर को  जान सकते हैं | दोस्तों खासकर हिंदुस्तान के अंदर जब कोई नया मेहमान घर आने वाला होता है तो हम उसके जेंडर को लेकर बहुत ही ज्यादा उत्सुक होते हैं इसी कड़ी में हम आपको पल्स विधि द्वारा कैसे जेंडर जाना जाए इस संबंध में चर्चा करेंगे.
You May Also Like : प्रेगनेंसी की कर रही है प्लानिंग तो अभी से खाना शुरू कर दें ये 7 चीजें

baby boy gender prediction, baby girl gender prediction, gender reveal in hindi, गर्भ में लड़के का कैसे पता लगायें


दोस्तो जब एक नन्हा मेहमान महिला के गर्भ में आता है तो महिला के शरीर पर एक नई जिम्मेदारी आ जाती है उसे अपने साथ-साथ उस बच्चे का भी पालन करना होता है, जब शरीर पर एक नई जिम्मेदारी आ जाती है
गर्भधारण के बाद कार्डियोवैस्कुलर प्रणाली में बहुत सारे बदलाव होते हैं। गर्भावस्था के कारण बॉडी को अधिक एलर्जी की आवश्यकता होती है महिला को अधिक खाना पड़ता है, अधिक ऑक्सीजन की आवश्यकता होती है जिसके कारण रक्त परिसंचरण की गति बढ़ जाती है.
You May Also Like : प्रेगनेंसी में दी जाने वाली बेस्ट ड्रिंक


यह काफी प्राचीन तरीका है और चाइना में से काफी सटीक माना जाता है जब महिला का गर्भ 3 महीने का हो जाता है तो उसके बाद महिला के दोनों हाथों की  पल्स चेक की जाती है | अगर बाएं हाथ की पल्स बहुत ज्यादा फिसल रही हो और साथ में तेज गति से फुदक भी रही है, साथ ही साथ  दाहिने हाथ की नब्ज नॉर्मल हो तो यह माना जाता है कि महिला को लड़का पैदा होगा.
You May Also Like : प्रेगनेंसी में पुदीने की चाय पीए कि नहीं पीए You May Also Like : अल्कोहल से जेंडर प्रिडिक्शन 1 मिनट में

 अगर दाहिने हाथ की पल्स बहुत ज्यादा फिसल रही हो और तेज गति से फुदक भी रही है, साथ ही साथ  बाएं हाथ की नब्ज नॉर्मल हो तो यह माना जाता है कि महिला को लड़की पैदा होगी |

Note : बस ध्यान रखें कि किसी बीमारी की वजह से महिला की पल्स तेज ना हो

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें