Header Ads

गर्भावस्था के दौरान उच्च बीपी के लिए घरेलू उपचार - Home remedies for high BP during pregnancy

गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को कुछ खाद्य पदार्थ खाने के लिए बताए जाते हैं लेकिन आप स्वयं अपनी सलाह पर यह खाद्य पदार्थ न लें. इसके लिए आप पहले अपने डॉक्टर से संपर्क करें. उनसे पूछ कर ही लें . हम कुछ आपको ऐसे खाद्य पदार्थ बता रहे हैं, जो आपको हाई बीपी की समस्या में फायदा दे सकते हैं.

गर्भावस्था के दौरान उच्च बीपी के लिए घरेलू उपचार - Home remedies for high BP during pregnancy

लहसुन एक ऐसा खाद्य पदार्थ है, जिसके अंदर कुछ ऐसे तत्व पाए जाते हैं, सल्फर कंपाउंड जोकि हाई बीपी को रोकने में मददगार होते हैं. एक चम्मच शहद के साथ एक लहसुन की कली ली जा सकती है. लहसुन गर्म होता है, इसलिए डॉक्टर से परामर्श लें.

 गर्भावस्था में उच्च रक्तचाप को कम करने के लिए शहद का सेवन भी किया जाता है. अगर शहद नेचुरल हो तभी यह ज्यादा फायदा करता है. क्योंकि मार्केट में तो डुप्लीकेट शहद भी आता है. हाई बीपी की समस्या में दिन में तीन बार एक एक चम्मच शहद का प्रयोग किया जा सकता है. पर पहले डॉक्टर से ही पूछें.

नारियल पानी एक अत्यधिक गुणकारी पेय पदार्थ है, नेचुरल होता है. उच्च रक्तचाप की समस्या में यह काफी फायदा करता है.

जब भी केले का जिक्र आता है तो उसके अंदर पाए जाने वाले तत्व पोटेशियम का जिक्र जरूर आता है यह हाई बीपी को कंट्रोल करने में काफी फायदेमंद होता है.

गर्भावस्था के दौरान गाजर का उपयोग भी किया जा सकता है आप इसका जूस ले लीजिए इसकी सब्जी बनाकर खाई है क्योंकि इसमें पोटेशियम और beta-carotene भरपूर मात्रा में होते हैं जो कि हाई बीपी को नियंत्रित करने के लिए कार्य करते हैं और यह एक सुरक्षित खाद्य पदार्थ भी है.

 उच्च रक्तचाप को गर्भावस्था के दौरान नियंत्रित करने के लिए महिला टमाटर का जूस निकालकर भी पी सकती है.

 गर्भावस्था के दौरान हाइपरटेंशन को नियंत्रित करने के लिए आंवले के जूस का सेवन भी किया जा सकता यह भी एक अत्यधिक गुणकारी पदार्थ होता है और भी कई सारे पोषक तत्व से प्राप्त होते हैं इसलिए यह महिलाओं के लिए फायदेमंद माना जाता है.

दालचीनी एक औषधि भी है मसाला भी है और तासीर में गर्म भी होती है लेकिन यह हाई बीपी को कंट्रोल करने में गजब का काम करती है लेकिन इसे लेने से पहले आप अपने डॉक्टर से जरूर पूछें या आप आयुर्वेदाचार्य से भी इस संबंध में पूछ सकते हैं.

गर्मियों में पाए जाने वाला फल तरबूज भी हाई बीपी की समस्या को नियंत्रित करता है और महिला जो कि गर्भवती है इसे खा भी सकती है इसके अंदर कुछ ऐसे अमीनो एसिड पाए जाते हैं जो कि हाई बीपी को कंट्रोल करने का कार्य करते हैं.

महिलाओं का प्रश्न होता है कि क्या हाई बीपी से गर्भ शिशु पर फर्क पड़ता है तो इस प्रश्न का उत्तर हमने अपनी इस वीडियो के माध्यम से एक तरह से दे दिया है फिर भी बता दे फर्क पड़ता है

अगर महिला यह जानना चाहती हैं कि डिलीवरी के बाद उन्हें इस समस्या से छुटकारा मिल जाएगा तो यह आपकी स्थिति पर निर्भर करता है और भी कई सारे फैक्टर हो सकते हैं आपके आसपास जिन पर यह निर्भर करता है.

No comments

Powered by Blogger.