Header Ads

  • Latest

    प्रेग्नेंसी में वजन बढ़ने को लेकर हैं परेशान, तो अभी से फॉलो करें ये टिप्स

    नमस्कार दोस्तों, प्रेगनेंसी जीवन में खुशियां लेकर आती है वही काफी सारी परेशानियां लेकर भी आती है प्रेगनेंसी में बहुत ज्यादा सावधान रहने की आवश्यकता होती है प्रेग्नेंसी के दौरान कई प्रकार की परेशानियों का सामना करना पड़ता है। सबसे अधिक वजन बढ़ने की समस्या होती है (pregnancy me weight badna) और इसे रोकने के लिए महिलाओं को प्रयास करने की आवश्यकता होती है।

    pregnancy weight gain

    You May Also Like : गर्भावस्था में मछली के तेल के फायदे
    You May Also Like : पुत्री प्राप्ति में स्वर विज्ञान का योगदान

    शरीर में हार्मोन अल बदलाव (hormonal changes during pregnancy) के चलते कई प्रकार की समस्या पर प्रेगनेंसी में नजर आते हैं , जैसे कि मूड स्विंग, मिचली, चक्कर आना और वजन अनियमित रूप से बढ़ने जैसी समस्या होने लगती है। कई महिलाएं इन बातों को हल्के में लेती हैं जिसके कारण उन्हें प्रेग्नेंसी के दौरान कई प्रकार की परेशानियों का सामना करना पड़ता है। वजन बढ़ने की समस्या के अलावा जो भी समस्याएं जो हमने बताई है वह आती है तो वह धीरे-धीरे दूर हो जाती है, लेकिन आगे चलकर वजन बढ़ने की समस्या काफी परेशानी पैदा कर सकती है जो डिलीवरी के समय दिक्कत दे सकती है और डिलीवरी के बाद भी यह समस्या परेशानी पैदा करती है । कई महिलाओं को इस बात का अंदाजा भी नहीं होता है कि वो अपने बढ़ते वजन को कैसे कम करेंगी।

    आज हम वीडियो के माध्यम से चर्चा करेंगे कि वजन बढ़ने के क्या क्या कारण हो सकते हैं और इन्हें और वजन बढ़ने की समस्या को कंट्रोल कैसे किया जाए साथ ही साथ यह भी बताएंगे किस से किस तरह की परेशानी हो सकती है आइए दोस्तों चर्चा करते हैं।

     प्रेगनेंसी में अधिक वजन के नुकसान - Pregnancy me adhik weight hone ke nuksan 
    प्रेगनेंसी के समय वजन का बढ़ना अच्छा माना जाता है अगर वजन कम होता है तो यह परेशानी वाली बात होती है लेकिन अगर वजन जितना बढ़ना चाहिए उससे अधिक बढ़ जाता है तो फिर यह परेशानी का कारण बन जाता है कई प्रकार की समस्याएं पैदा हो जाती है जैसे कि
    शरीर का अधिक वजन बढ़ाना गर्भपात का कारण बन सकता है।

    You May Also Like : वर्षा ऋतु में गर्भ की देखभाल कैसे करें
    You May Also Like : प्रेगनेंसी में नारियल पानी का फायदा

    शरीर के अधिक वजन होने की वजह से रक्तचाप भी बढ़ जाता है शरीर के अधिक वजन होने की वजह से रक्तचाप भी बढ़ जाता है जो कि प्रेग्नेंसी के समय ठीक नहीं ।

    अगर आप का वजन अधिक हो जाएगा तो शरीर में चर्बी बढ़ेगी जिसकी वजह से बच्चे को विकास के लिए आवश्यक जगह की कमी शरीर के अंदर हो जाएगी।

    गर्भधारण के समय में ज्यादा वजन की बात की जाए तो यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन और प्रसव के बाद इंफेक्शन का खतरा भी काफी बढ़ जाता है।
    अगर बच्चे का वजन भी बढ़ जाता है तो डिलीवरी नॉरमल नहीं हो पाएगी सिजेरियन बेबी होने के चांसेस अधिक हो जाते हैं।
    मोटापा अपने आप में कई बड़े रोगों की जननी माना जाता है तो ऐसे में उन रोगों का भी खतरा बना रहता है

    प्रेगनेंसी में अधिक वजन होने के कारण - Pregnancy me adhik weight hone ke karan

    प्रेगनेंसी में वजन बढ़ाने के कुछ मुख्य कारण होते हैं जिन पर चर्चा कर लेते हैं।

    weight gain during pregnancy

    You May Also Like : घर पर चीनी से प्रेगनेंसी कैसे चेक करें
    You May Also Like : प्रेगनेंसी के दौरान इन 16 बातों का ध्यान रखें - Part #2

    1 तनाव - Stress during Pregnancy
    अगर प्रेग्नेंसी के समय महिलाएं तनाव से ग्रस्त रहते हैं तनाव किसी भी वजह से हो सकता है बच्चे को लेकर, घर में किसी बात को लेकर, बच्चे के भविष्य को लेकर कैसा भी तनाव, यह तनाव प्रेगनेंसी में मोटापे का कारण बन जाता है। ऐसी स्थिति में महिलाओं को ज्यादा से ज्यादा खुश रहना चाहिए।

    2. डायबिटीज और हाइपरटेंशन Diabetes and Hyper Tension 
    आजकल खानपान बहुत ज्यादा खराब हो गया है जिसकी वजह से हाइपरटेंशन और डायबिटीज की समस्या बहुत ही कम उम्र में देखने में नजर आने लगी है । जो मां और बच्चे दोनों पर प्रभाव डालती है और साथ ही मोटापा बढ़ाने का भी एक कारण है।

    3. नींद की कमी - Sleeplessness in Pregnancy
    प्रैग्नेंसी में रात को पूरी नींद न लेने से भी वजन बढ़ने की समस्या हो सकती है। गर्भावस्था के दौरान होने वाले शारीरिक बदलाव की वजह से शरीर को आराम की जरूरत होती है। इसलिए एेसे समय में प्रोपर नींद लें।

    4. अधिक कैलोरी लेना - Eigh Calories Intake
    प्रेग्नेंसी के समय महिलाओं को अत्यधिक भूख लगती है तो ऐसे में खाना खाने की इच्छा होती भी है और खाना खाना बोला भी जाता है लेकिन कभी-कभी महिलाएं इस बात का ध्यान नहीं रख पाती है कि जो वह खा रही है वह पौष्टिक है या नहीं कभी-कभी महिलाएं भूख लगने पर ऐसी वस्तुएं खाने लगती है जिसमें मात्र कैलोरी होती है जो आगे चलकर मोटापे का कारण बन जाती है।

    You May Also Like : Y शुक्राणुओं को कैसे ताकतवर बनाए - लड़का पैदा हो
    You May Also Like : कब और कैसे करें प्रेगनेंसी चेक

    एक्स्ट्रा वजन कैसे कम करें - Extra weight kaise kam kare 

    प्रेग्नेंसी से पहले वजन कम करने के लिए करें ये काम

    डाइट प्लान का पालन करें - Good Diet plan
    अगर आप प्रेगनेंसी में ओवरवेट हो गए हैं और आप अपना वेट कम करना चाह रहे हैं तो एकदम से खाना भी नहीं छोड़ा जाता है क्योंकि बच्चे के लिए जो आवश्यक पोषक तत्व है वह तो आपको लेने ही होंगे तो ऐसे में आप अपनी डाइट का प्लान बनाएं।

    इसके लिए आप अपने डॉक्टर से या किसी डाइट एक्सपर्ट से सलाह ले सकते हैं, क्योंकि आपको कैलरीज इंटेक कम करना है और पोषक तत्व भरपूर मात्रा में लेने हैं तो आपको अपने खाने की न्यूट्रिशन वैल्यू भी पता होनी चाहिए तो इसके लिए डाइट एक्सपर्ट की सलाह आवश्यक होगी । डाइटिंग की बजाय आप डाइट प्लान का पालन करना एक बेहतर विकल्प साबित हो सकता है। ये आपको पर्याप्त मात्रा में पोषक तत्व प्रदान करते हैं और आपके फर्टिलिटी के स्तर को बनाएं रखते हैं।

    कैलोरी का सेवन करें कम - Low calories intake 
    यदि आप वजन कम करने के बारे में सोच रही हैं तो कैलोरी के सेवन को कम करें। रोजाना 1500 कैलोरी से कम के सेवन की कोशिश करें। पूरी तरह से कार्बोहाइड्रेटेड और फैट के सेवन को करने की बजाय बराबर मात्रा में सेवन करें।

    एक्सरसाइज करें - Yoga in Pregnancy
    आप अगर प्रेगनेंट हैं और आपका वजन अधिक है तो आपको अपने वजन को कम करने के लिए एक्सरसाइज का सहारा लेना पड़ सकता है लेकिन प्रेगनेंसी में हर प्रकार के तो नहीं की जा सकती है
    एक्सरसाइज जरूरी है। बिना एक्सरसाइज के वजन कम नहीं किया जा सकता है। तो आप अपने डॉक्टर से पूछे कि आपको किस तरह के एक्सरसाइज करनी चाहिए अगर आप एक्सरसाइज नहीं करना चाहती हैं तो रोजाना टहलना भी आपके लिए एक बेहतर विकल्प साबित हो सकता है, ताकि आप के कम से कम रोजाना 500 कैलोरी बर्न हो ।
    You May Also Like : गर्भ अवस्था में इन बातों का ध्यान रखें बच्चा तेज दिमाग वाला होगा
    You May Also Like : गर्भावस्था में अमरूद खाने के जबरदस्त फायदे


    weight loose during pregnancy


    सप्लीमेंट्स का सेवन करें - Food supplement in food
    वजन को कंट्रोल करने के लिए फूड सप्लीमेंट भी एक बेहतर उपाय आजकल ट्रेंड में है इसमें क्या होता है कि आपको फूड सप्लीमेंट के अंदर हर तरह का पोषक तत्व निश्चित मात्रा में आपको मिलेगा जो की बहुत अच्छी बात है और साथ ही साथ आपको कैलरीज का सेवन भी नहीं करना पड़ेगा इससे आपके और आपकी गर्भस्थ बच्चे के लिए आवश्यक पोषक तत्व भी मिलते रहेंगे और आपका वजन भी कम हो जाएगा लेकिन प्रेगनेंसी में फूड सप्लीमेंट लेने से पहले आपको अपने डॉक्टर की सलाह अवश्य लेनी चाहिए।
    You May Also Like : गर्भावस्था में लीची का सेवन सुरक्षित है या नहीं
    You May Also Like : गर्भावस्था में पपीता खाए कि नहीं


    एल्कोहल को कहें ना - Avoid Alcohal 
    एल्कोहल ना सिर्फ शरीर में फैट की मात्रा बढ़ाता है बल्कि स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होता है। इससे गर्भ में पल रहे बच्चे का मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य भी प्रभावित होता है। इसके अलावा अनियमित रूप से वजन भी बढ़ाता है।





    No comments

    Post Top Ad

    Post Bottom Ad

    /*################## my map Code ###########*/ /* ########## my code End #######*/