Header Ads


Pregnancy Care items

प्रेगनेंसी में अदरक खाने के फायदे और नुकसान | Is it safe to eat ginger in pregnancy

 क्या प्रेग्नेंसी के समय अदरक खाया जा सकता है, दोस्तों में अदरक के बारे में कुछ बातें आपको यहां पर बताएंगे जींस के जिन्हें जानकर आप इस बात का ज्ञान बड़ी आसानी से लगा सकते हैं कि आपको अपनी प्रेगनेंसी के दौरान अदरक खाना चाहिए या नहीं खाना चाहिए या कब हमें अदरक अवॉइड करना चाहिए.

क्या प्रेगनेंसी में अदरक खाना सुरक्षित है

अदरक के पोषक तत्व

प्रेगनेंसी के दौरान कितना अदरक खाना चाहिए

प्रेगनेंसी में अदरक के फायदे

प्रेगनेंसी में अदरक के साइड इफेक्ट

प्रेगनेंसी में अदरक का सेवन कब नहीं करें

 
प्रेगनेंसी के दौरान कितना अदरक खाना चाहिए प्रेगनेंसी में अदरक के फायदे प्रेगनेंसी में अदरक के साइड इफेक्ट प्रेगनेंसी में अदरक का सेवन कब नहीं करें


इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी में क्यूं खाना चाहिये फूलगोभी
इन्हें भी पढ़ें : गर्भावस्था में पत्तागोभी खाना कितना सुरक्षित
इन्हें भी पढ़ें : गर्भावस्था में मछली के तेल के फायदे
इन्हें भी पढ़ें : गर्भावस्था में अनार खाने के क्या फायदे है
इन्हें भी पढ़ें : गर्भावस्था में पपीता खाए कि नहीं

क्या प्रेगनेंसी में अदरक खाना सुरक्षित है

अदरक की तासीर गर्म होती है और यह अधिक मात्रा में खाने से गर्भपात की स्थिति पैदा करता है. इसलिए गर्भ ना हो इसलिए भी इसका इस्तेमाल किया जा सकता है.
अगर प्रेगनेंसी हो गई है और महिला प्रेगनेंसी को आगे ले जाना चाहती है तो क्या उसे अदरक का सेवन करना चाहिए.
जी हां गर्भवती स्त्री गर्भावस्था के दौरान अदरक का सेवन कर सकती है. लेकिन संयमित मात्रा में ही अदरक का सेवन करना चाहिए. अधिक मात्रा में सेवन करने से नुकसान हो सकता है और कम मात्रा में इसका सेवन करने से फायदे होते हैं.

प्रेगनेंसी के दौरान कितना अदरक खाना चाहिए

प्रेगनेंसी के दौरान कितना अदरक 1 दिन में हम प्रयोग में ला सकते हैं इसके लिए अलग-अलग मत हैं लेकिन हम जहां तक मानते हैं 250 मिलीग्राम अदरक महिला को एक समय में प्रयोग में लाना चाहिए और इस तरह से वह दिन में चार बार 250-250 मिलीग्राम अदरक अपने भोजन में शामिल कर सकती है. अर्थात 1 ग्राम अदरक का प्रयोग है रोज कर सकती है.

अर्थात 1 ग्राम अदरक का प्रयोग रोज कर सकती है. अगर महिला 5 ग्राम से अधिक अदरक का सेवन प्रेगनेंसी के दौरान करती है तो उसके कुछ दुष्प्रभाव सामने आ जाते हैं. Heart bern,  मुंह में जलन, दस्त जैसी परेशानियां हो सकती है.

अदरक के पोषक तत्व

अदरक एक मसाले के रूप में जाना जाता है इसके अंदर काफी सारे पोषक तत्व पाए जाते हैं. अदरक के अंदर कार्बोहाइड्रेट, फाइबर, प्रोटीन, शक्कर इत्यादि होता है इससे ऊर्जा भी प्राप्त होती है. इसमें सोडियम, कैल्शियम, आयरन, जिंक, फॉलेट, पोटेशियम और मैग्नीशियम पाया जाता है.

काफी सारे विटामिन बी अदरक के अंदर होते हैं, जैसे कि विटामिन बी सिक्स, विटामिन सी, राइबोफ्लेविन, नियासिन इत्यादि.

प्रेगनेंसी के दौरान अदरक के फायदे

प्रेगनेंसी के दौरान मॉर्निंग सिकनेस और मछली उल्टी आने की समस्या काफी ज्यादा शुरुआती समय में देखने में आती है इसके लिए अगर महिला अदरक का प्रयोग करती है तो इस समस्या में उसे काफी राहत मिलती है.
अदरक के अंदर anti-inflammatory और एंटीऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं जिसके कारण यह रोगों से लड़ने की क्षमता शरीर को प्रदान करता है सूजन इत्यादि में भी यह काफी फायदेमंद होता है.

गर्भावस्था के दौरान महिला संयमित मात्रा में अदरक का सेवन करती है तो छोटी मोटी बीमारी जैसे कि खांसी जुखाम बुखार यह किसी प्रकार का संक्रमण जल्दी से नहीं होता है.

अदरक खाने से  पेट की समस्या जैसे  अपच और  बेचैनी में लोगों के लिए फायदेमंद होता है.

अदरक हृदय को स्वस्थ रखने का कार्य करता है इसकी वजह से रक्तचाप संतुलित रहता है और शरीर में ब्लड की सप्लाई सुदृढ़ रहती है.

महिला को फूड क्रेविंग की समस्या प्रेगनेंसी के दौरान रहती है अगर महिला को कुछ चटपटा खाने का मन कर रहा है तो वह अदरक का थोड़ा सा टुकड़ा मुंह रखकर धीरे-धीरे उसे चूसे तो मसालेदार खाने की इच्छा कम होने लगेगी.
खांसी जुकाम की समस्या में अदरक काफी राहत प्रदान करने वाला होता है.

अदरक का सेवन अपने भोजन में करने से अपच की समस्या काफी हद तक नहीं होती है, और गर्भावस्था के दौरान अपच काफी बड़ी समस्या मानी जाती है.

इन्हें भी पढ़ें : गर्भावस्था में कब दूध पीना चाहिए और कब नहीं पीना चाहिए
इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी में केला खाने के फायदे और नुकसान
इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी में सेब खाने के फायदे और नुकसान
इन्हें भी पढ़ें : प्रेग्नेंसी के समय पेट पर काली लाइन, क्या है यह है, क्यों बनती है
इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी में मछली खाती है तो इन बातों का ध्यान रखें

प्रेगनेंसी के दौरान अदरक के साइड इफेक्ट और सावधानियां

अगर कोई भी महिला संयमित मात्रा में अदरक का सेवन करती है तो किसी भी प्रकार की परेशानी की संभावना नहीं होती है, लेकिन अगर महिला अधिक मात्रा में अदरक का सेवन अपने भोजन के माध्यम से करती है तो महिला को कुछ समस्याएं नजर आ सकती हैं.
जैसे कि पेट में गड़बड़, दस्त की समस्या, हार्टबर्न, मुंह में जलन की समस्या हो सकती है.


प्रेगनेंसी के दौरान कुछ बातों का ध्यान अदरक का प्रयोग करते समय रखना चाहिए –


अदरक खून को पतला करने का कार्य करता है अगर महिला पहले ही ब्लड प्रेशर की मेडिसिन का प्रयोग कर रही है तो उसे अदरक का सेवन अपने भोजन के माध्यम से बिल्कुल भी नहीं करना है क्योंकि ब्लड प्रेशर की मेडिसन भी खून को पतला करती है.

 दूसरी बात अगर महिला को पहले गर्भपात हो चुके हैं ,बच्चा  गिर जाता है तो ऐसी अवस्था में भी अदरक का सेवन करने से बचना चाहिए.  क्योंकि अदरक की तासीर गर्म होती है और शरीर संभालने लायक नहीं बन पा रहा होता है ठीक ढंग से वह कार्य नहीं कर रहा होता है तो अदरक का प्रयोग करने से बचें.


No comments

Powered by Blogger.