Header Ads


Pregnancy Care items

प्रेगनेंसी में सर दर्द के 6 लक्षण और कैसे बचे

 प्रेगनेंसी के दौरान सर दर्द के कारण और लक्षण को लेकर चर्चा करने जा रहे हैं .


सिर दर्द के क्या लक्षण है
जीवन शैली में बदलाव ताकि सिर दर्द ना हो

सिर दर्द क्यों होता है, सिर दर्द के क्या कारण है सिर दर्द के क्या लक्षण है जीवन शैली में बदलाव ताकि सिर दर्द ना हो

इन्हें भी पढ़ें : अनियमित महावारी में प्रेगनेंसी के 5 टिप्स
इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी में इन 12 बातों का ध्यान जरूर रखें
इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी केयर 80 टिप्स
इन्हें भी पढ़ें : गर्भावस्था के दौरान बाल गिरने के 13 घरेलू उपचार
इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी में स्तन दर्द के 11 उपाय

सिर दर्द होने से पहले वाले लक्षण - Premenstrual symptoms


जब किसी प्रकार की समस्या होती है तो उससे पहले कुछ लक्षण अक्सर दिखाई पड़ते हैं, अगर आपको सिरदर्द की समस्या है, तो उससे पहले भी आपको कुछ लक्षण दिखाई देंगे.

सिर दर्द के साथ साथिया उससे पहले महिला की आंख लाल रह सकती है. उनमें जलन हो सकती है.

 महिला का सिर भारी रहना शुरु हो जाता है.

बार-बार महिला का जी मिचलाना है.

चमकदार रोशनी देखने में आंखों में दर्द का अनुभव होता है

रह-रहकर महिलाओं को उल्टी हो सकती हैं.

कभी-कभी चक्कर आना भी सर दर्द का लक्षण होता है.

इन सब अवस्था में आपको डॉक्टर से मिलना चाहिए.

इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी में कब्ज से बचने के 14 उपाय
इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी के दौरान कब्ज की समस्या
इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी में आइसक्रीम खाते समय इन बातों का ध्यान जरूर रखें
इन्हें भी पढ़ें : मिसकैरेज के कारण,लक्षण और प्रकार
इन्हें भी पढ़ें : गर्भपात होने के 10 बड़े कारण

जीवन शैली में बदलाव ताकि सिर दर्द ना हो - Lifestyle changes so that headaches do not occur


प्रेगनेंसी के दौरान महिला को अल्कोहल और नशीले पदार्थों का प्रयोग बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए.

महिला को शोर-शराबे वाले स्थान से हमेशा दूर रहना चाहिए. यह बच्चे को भी नुकसान पहुंचाता है.

महिला को अपने भोजन में तरल पदार्थ जैसे कि पानी, दूध और जूस इनका इस्तेमाल अधिक से अधिक करना चाहिए.

 महिला को जिस भी प्रकार के भोजन से एलर्जी है, उसे पता होना चाहिए और प्रेगनेंसी में वह सब नहीं खाना चाहिए.

चिंता तनाव और डिप्रेशन यह सब सिर दर्द को जन्म देते हैं, इनसे बचें.  अच्छा म्यूजिक सुने, किताबें पढ़ें, भक्ति करें अपने आपको बिजी रखें ज्यादा ना सोचे.

No comments

Powered by Blogger.