Pregnancy & Care

Everything about Pregnancy and after care.

सोमवार, 5 अगस्त 2019

गर्भावस्था में पत्तागोभी खाना कितना सुरक्षित

सर्दियों में पाई जाने वाली एक सब्जी के विषय में की प्रेग्नेंसी के समय इस सब्जी को खाया जाना चाहिए कि नहीं खाया जाना चाहिए दोस्तों इस सब्जी का नाम है पत्ता गोभी.
दोस्तों प्रेग्नेंसी के समय किसी भी भोजन को बिना सोचे समझे ग्रहण नहीं किया जाता है इसके लिए उसके बारे में यह जानना बड़ा आवश्यक होता है कि उसे प्रेगनेंसी में खाना चाहिए कि नहीं खाना चाहिए हम आपको आज अपनी वीडियो के माध्यम से पत्ता गोभी में पाए जाने वाले न्यूट्रिशन के बारे में बताएंगे.
पत्ता गोभी के प्रेग्नेंसी में लाभ और हानि के विषय में चर्चा करेंगे ताकि आप बड़ी आसानी से इस बात का आकलन कर पाए कि आपको प्रेगनेंसी में पत्ता गोभी खाने चाहिए कि नहीं खानी चाहिए.
You May Also Like : प्रेगनेंसी में जेंडर प्रेडिक्शन की 5 अजब गजब ट्रिक्स
You May Also Like : प्रेगनेंसी में जेंडर प्रेडिक्शन की 6 फनी ट्रिक्स


eat cabbage in pregnancy

पत्ता गोभी में प्रोटीन,  ना घुलने वाला फाइबर के अलावा बिटा-केरोटीन, विटमिन्स बी1, बी6, सी, के, ए, विटामिन ई के अलावा और भी कई मिनरल्स भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। जैसे कि  मैग्नीशियम, जिंक , आयरन फास्फोरस, पोटेशियम और सल्फर भी काफ़ी मात्रा में पाए जाते हैं। पत्ता गोभी आपके अच्छे स्वास्थ्य के लिए बहुत ही लाभकारी हैं। पत्तागोभी ब्रेसिका परिवार का एक सदस्य है जिसमें अन्य सब्जियां जैसे - ब्रोकली, फूलगोभी और ब्रूसल स्प्राउट आते है। हर गर्भवती महिला को रोजाना कम से कम एक कप गोभी जरूर खानी चाहिए। पत्ता गोभी से गर्भावस्था के दौरान मिलने वाले फायदों के बारे में चर्चा करते हैं ।
You May Also Like : पुत्र रत्न प्राप्ति के लिए तीन आयुर्वेदिक उपाय उपाय #2
You May Also Like : पुत्र रत्न प्राप्ति के लिए तीन आयुर्वेदिक उपाय #1


विटामिन से भरपूर
गर्भावस्था में पत्तागोभी काफी फायदेमंद होती है। इसमें फोलेट काफी उच्च मात्रा में होते हैं। इसके साथ ही यह विटामिन ए और विटामिन बी से भी भरपूर होती हैयह नई कोशिकाओं को बनाने में मदद करती है इस कारण गर्भ में पल रहे भ्रूण का विकास भी सुगमता से हो जाता है।

वेट लॉस करने में हेल्प करता हैं 
दोस्तों प्रेग्नेंसी के समय ना तो महिला का वजन अधिक होना चाहिए और ना ही वजन कम होना चाहिए भजन संतुलित होना चाहिए अगर वजन कम हो जाता है तो बच्चे को संपूर्ण पोषण नहीं मिल पाता है बच्चा कमजोर रह जाता है या बीमार पड़ जाता है अगर वजन बढ़ जाता है तो इस स्थिति में बच्चे का वजन अधिक हो जाता है और महिला का वजन भी अधिक है तो डिलीवरी के समय बहुत ज्यादा परेशानी हो सकती है
एक कप पकाई गयी पत्ता गोभी में केवल 33 कैलोरी पाई जाती हैं, जिससे यह वेट को कम करने में बहुत ही मददगार साबित होती हैं। पत्ता गोभी का सूप पीने से शरीर को एनर्जी तो मिलती ही हैं और साथ ही वजन भी नही बढ़ता हैं।
You May Also Like : पुत्र प्राप्ति के 3 बलशाली टोटके
You May Also Like : पुत्र प्राप्ति का आयुर्वेदिक नुस्खा (नींबू + दूध + देसी घी)

जरूरी मिनरल्स दें
गर्भावस्था के दौरान पत्तागोभी अवश्य खानी चाहिए क्योंकि इसके अंदर छारीय तत्वों की भरमार होती है छारीय तत्व रक्त शोधन के कार्य में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। उन्हें हम मिनरल्स भी कह सकते हैं
पत्ता गोभी को सब्जी के रूप में अथवा सलाद के रूप में प्रयोग करना चाहिए । पत्तागोभी पेट को साफ रखने में बहुत कारगर है। इसमें क्लोरीन और सल्फर नाम के दो बहुत जरुरी मिनरल्स होते हैं। आप पत्तागोभी का जूस पीने के बाद एक तरह की गैस महसूस करेंगे और यह गैस इस बात का इशारा होता है कि जूस ने अपना काम करना शुरु कर दिया है।

cabbage during pregnancy

You May Also Like : प्राचीन ऋषियों द्वारा पुत्री प्राप्ति के दिए गए पांच सूत्र
You May Also Like : आयुर्वेदिक नुस्खे से पुत्र प्राप्ति - शिवलिंगी के बीज और पुत्रजीवक बीज

सूजन कम करने में सहायक
पत्ता गोभी के अंदर anti-inflammatory गुण पाए जाते हैं इस गुण के कारण यह है सूजन कम करने में अत्यधिक सहायक होता है अक्सर देखा जाता है कि प्रेग्नेंसी के समय महिलाओं के हाथ पैरों पर सूजन आ जाती है पत्ता गोभी इसे कंट्रोल कर सकती हैं
शिशु के लिए फायदेमंद : पत्ता गोभी में पाया जाने वाला पोटेशियम और फास्फोरस शिशु के न्यूरॉन्स को बेहद एक्टिव बना देते हैं जिससे बच्चे का दिमाग तेज होने लगता है

खूनी की कमी को दूर करें
अक्सर देखा जाता है कि महिलाओं में जो कि प्रेग्नेंट है उनमें खून की कमी पाई जाती है ऐसे में महिलाओं को डॉक्टर इस की कमी को दूर करने के लिए टैबलेट्स लिखती है अगर महिलाएं चाहे तो इसके लिए पत्ता गोभी का इस्तेमाल भी कर सकती है पत्ता गोभी के अंदर एमिनो एसिड तथा लोह तत्व भरपूर मात्रा में पाया जाता है । जोकि शरीर में ब्लड की कमी को दूर करने में सक्षम होते हैं तथा नए ब्लड सेल्स का भी निर्माण करते हैं ।
You May Also Like : पुत्र प्राप्ति की चमत्कारी प्राचीन औषधि
You May Also Like : गर्भ में पुत्र प्राप्ति का उपाय - गाय का दूध

मसल्स के दर्द से राहत दिलाए
प्रेग्नेंसी के समय शरीर पर अत्यधिक प्रेशर रहता है इसके कारण मसल्स इंजरी होने का खतरा बना रहता है, पत्ता गोभी में लैक्टिक एसिड अच्छी मात्रा में पाया जाता हैं, जो मसल्स इंजरीज को रिकवर करने में काफ़ी हेल्पफुल होता हैं।

cabbage in pregnancy

त्वचा के लिए फायदेमंद
 पत्ता गोभी को रंग साफ़ करने के लिए भी उपयोगी माना जाता हैं। कभी-कभी प्रेग्नेंसी के समय महिला की स्किन, त्वचा काफी ड्राई और खराब हो जाती है, गोभी में बड़ी मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट एंटी ऑक्सीडेंट पाए जाते हैं जोकि त्वचा को निखारने में अत्यधिक सहायक होते हैं ,
इसमे पोटैशियम और विटामिन ई और ए होते हैं। यह दोनो विटामिन स्किन के टिश्यू को फ्रेशनेस देते हैं और आपकी स्किन को गोरा, मुलायम और आकर्षित बनाते हैं।
You May Also Like : बच्चे में विकलांगता आने के कारण
You May Also Like : गर्भ में शिशु की हलचल कब कम हो जाती है क्या कारण है

मूत्र संबंधी रोग कम करें
गर्भावस्था में मूत्र संबंधी परेशानियों का भी सामना करना पड़ता है। मूत्र संबंधी किसी भी तरह की परेशानियों को दूर करने में पत्तागोभी का सेवन करना लाभदायक होता है। यह पेशाब में रूकावट संबंधी दिक्कतों से निजात दिलवाती है। पत्तागोभी शरीर में सूजन व दर्द को ठीक करती है।

इम्यूनिटी मजबूत बनाये 
प्रेग्नेंसी के समय महिला का इम्यून सिस्टम थोड़ा कमजोर हो जाता ऐसी स्थिति में महिलाओं को ऐसे खाद्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए जो इम्यून सिस्टम को स्ट्रांग करें पत्ता गोभी मे विटामिन सी भरपूर मात्रा में पाया जाता हैं, जिससे इम्यून सिस्टम स्ट्रॉंग बनता हैं। यह बॉडी को इम्यूनिटी को बढ़ाने में बहुत ही कारगर हैं।

benefits of cabbage during pregnancy

You May Also Like : यह सपने बताते हैं घर में पुत्र होगा या पुत्री
You May Also Like : गर्भवती द्वारा सपने इन फलों का देखे जाना पुत्र प्राप्ति दिखाता है


कॉन्स्टिपेशन से आराम 
अक्सर गर्भावस्था में कॉन्स्टिपेशन का शिकार महिलाएं रहती है पत्ता गोभी खाने से इसे कंट्रोल में लाया जा सकता है,पत्ता गोभी का जूस कब्ज को दूर करता है.

आँखो के लिए अच्छा हैं
पत्ता गोभी में बीटा-केरोटीन होता हैं, जो आँखो के लिए बहुत ही फायदेमंद हैं। इसका सेवन करने से आँखो में मोतियाबिंद होने का ख़तरा कम हो जाता हैं।

पत्ता गोभी के कुछ साइड इफेक्ट भी होते हैं जैसे कि गैस बनना किया पेट फूलना किस का सबसे बड़ा साइड इफेक्ट माना जाता है अगर आपको पहले से ही गैस की समस्या है तो आप इसके सेवन से बचें.
You May Also Like : गर्भ में पुत्र या पुत्री होने के सटीक 4 लक्षण
You May Also Like : बच्चे की धड़कन और महिला के पेट से कैसे पता करे गर्भ में बेटा है

पत्ता गोभी की ख़ासियत के साथ-साथ हम आपको पत्ता गोभी से जुड़े एक सच के बारे में भी बता रहे हैं। पत्ता गोभी में में Tapeworm (कीड़ा) होता हैं, जो खाने से दिमाग़ में पहुच जाता हैं। Doctors के मुताबिक पत्ता गोभी में पाया जाने वाला कीड़ा इतना पतला और छोटा होता हैं की यह आँखो से देखा नही जा सकता हैं। गोभी के कीड़े की Resistant power ज़्यादा होती हैं। यह पेट में पाए जाने वाले एसिड और एन्ज़ाइम से भी नही मरता हैं। अगर तापमान पानी के उबाल जितना भी हो जाए तो भी यह ज़िंदा रहता हैं। यह दिमाग़ पर ही वार करता हैं। जैसे जैसे यह दिमाग़ पर अपना असर डालता हैं, रोगी को दौरे पड़ने लग जाते हैं। ऑपरेशन में देरी और गड़बड़ी से पूरे शरीर को लकवा मार सकता हैं।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें